भिवाड़ी की सरकारी मिट्टी को हरियाणा में बेचा जा रहा, एक डंपर मिट्टी दस हजार रुपए

bhiwadi news, selling govt. sand

भिवाड़ी. राजस्थान की मिट्टी को हरियाणा में बेचा जा रहा है। मिट्टी भी किसी काश्तकार द्वारा नहीं बल्कि बीडा की है। बीडा की विभिन्न निर्माण साइट से निकली मिट्टी को स्टेडियम में एकत्रित किया गया था। अब यहां से डंपरों में भरकर बेचा जा रहा है। करोड़ों की मिट्टी को मिलीभगत से ठिकाने लगाया जा रहा है। बीते कई दिनों से स्टेडियम में जेसीबी से डंपर में मिट्टी भरकर उठाए जाने की सूचनाएं लग रही थी।

सोमवार सुबह भी निर्माणाधीन स्टेडियम की साइट पर जेसीबी और डंपर पहुंचे तो इसकी पड़ताल की। पता चला कि राजस्थानी मिट्टी की इतनी मांग है कि इसे हरियाणा में मुंह मांगे दाम में खरीदा जा रहा है। इसलिए तो अधिकारियों और ठेकेदार ने किसी भी नियम कानून की चिंता किए बिना दिनदहाड़े मिट्टी को सरकारी स्थल से उठाकर दूसरे प्रदेश में भेज दिया। मामला पकड़ में न आए इसके लिए भी पूरा इंतजाम किया गया है।

क्योंकि सिर्फ एक जेसीबी, एक डंपर से धीरे-धीरे मिट्टी को चुराया जा रहा है। जेसीबी डंपर में मिट्टी भरने के बाद वहां से कई बार हटाकर स्टेडियम निर्माण की तरफ जाकर खड़ी हो जाती है, जिससे कि किसी को कोई शक न हो। सोमवार को जो डंपर मिट्टी भरने में उपयोग किया जा रहा था, उस पर कोई पंजीयन नंबर भी अंकित नहीं है।

शहर के बीच में आबादी क्षेत्र में बिना पंजीयन का भारी वाहन चलने से भी सिस्टम की लापरवाही पर सवाल खड़ा होता है। वहीं स्टेडियम में निर्माण कार्य चल रहा है, वहां पर बीडा अधिकारी निरीक्षण के लिए आते रहते हैं, वहां पर जेसीबी डंपर से मिट्टी उठाए जाने का मामला बीडा अधिकारियों के संज्ञान में न आया हो, ऐसा हो नहीं सकता।

See also  Bhiwadi News: भिवाड़ी ने राजस्व में 230 करोड़ की राशि एसजीएसटी और वैट से जमा कराई

कहां से आई मिट्टी

बीडा द्वारा बायपास पर सडक़ चौड़ीकरण कराया गया है। दोनों तरफ एक-एक लेन में खुदाई कराई गई है। यहां से निकली मिट्टी को स्टेडियम के खाली मैदान में एकत्रित किया गया था। इसके साथ ही यहां से निकली मिट्टी को वसुंधरा नगर स्थित सामुदायिक भवन के बराबर खाली भूखंड में, सब्जी मंडी के मैदान सहित अन्य जगह डाला गया था। इसके साथ ही पूर्व में बाबा मोहनराम काली खोली रोड पर फुटपाथ निर्माण के दौरान भी बड़ी मात्रा में मिट्टी निकली। सब्जी मंडी से भी कई डंपर मिट्टी चोरी हो चुके हैं। साथ ही अन्य जगहों पर भी मिट्टी गायब है।

करोड़ों की मिट्टी हो रही खुर्दबुर्द

भिवाड़ी में मिट्टी अनमोल है। यहां एक डंपर मिट्टी दस हजार रुपए में मिलती है। इससे मिट्टी की कीमत का अंदाजा लगाया जा सकता है। लेकिन सडक़ चौड़ीकरण एवं अन्य जगहों से निकली मिट्टी सोना उगल रही है। मिलीभगत से करोड़ों की मिट्टी को बेचने का खेल चल रहा है। दूसरे राज्यों में भी मिट्टी भेजी जा रही है। हरियाणा के महेश्वरी गांव में मिट्टी को एक भूखंड पर खाली किया जा रहा था।

पूर्व में भी मिली शिकायत

बीडा की काली खोली में जमीन से भी मिट्टी बेचे जाने का मामला पूर्व में आ चुका है। मिट्टी माफिया ने विभागीय अधिकारियों से मिलकर बीडा की जमीन से ही करोड़ों रुपए की मिट्टी उठाकर बेच दी। उक्त मामले को लेकर कलक्टर ने भी बैठक में संबंधित अधिकारी से सवाल जबाव किए लेकिन किसने, क्यों और कैसे मिट्टी बेची, यह तथ्य उजागर नहीं हो सका है।

See also  Bhiwadi ESI Hospital में पुनर्भुगतान में देरी: भिवाड़ी के श्रमिक मज़बूरी में करा रहे निजी अस्पतालों में इलाज

इस मामले की जानकारी लेकर जो भी उचित कार्रवाई होगी की जाएगी, मिट्टी बेचने वालों पर सख्ती बरती जाएगी।
सलोनी खेमका, सीईओ, बीडा

[Source]

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *